ज्योतिषशास्त्र : वैदिक पाराशर

राशियों के वर्ण, रंग, संज्ञा एवं निवास स्थान

आचार्य संदीप पुलस्त्य

3 साल पूर्व

barah-rashi-varn-rang-sangya-nivas-sthan-twelve-zodiacs-cast-color-noun-house-vedic-jyotishshastra-astrology-hd-image-png


 

ज्योतिषशास्त्र में समस्त द्वादश राशियों को भिन्न भिन्न वर्ण संज्ञा एवं निवास चक्र प्रदान किये गए हैं जिनका अध्ययन कर राशियों के विषय में गूढ़ रहस्य ज्ञान प्राप्त होता है एवं एवं प्रत्येक राशि को समझने में सरलता होती है |

 

राशियों के वर्ण, रंग, संज्ञा और निवास चक्र :-

 

       क्र.सं.        राशि         वर्ण         रंग        संज्ञा        निवास स्थान
1. मेष क्षत्रिय लाल धातु रत्न भूमि
2. वृष वैश्य श्वेत मूल पर्वत शिखर
3. मिथुन शूद्र हरा जीव दुयूतगृह रतिगृह
4. कर्क ब्राह्मण लाल श्वेत धातु बापी पोखर
5. सिंह क्षत्रिय श्वेत मूल गुफा, वन, पर्वत
6. कन्या वैश्य विविध जीव क्रीड़ा भूमि
7. तुला शूद्र नीला धातु बाजार
8. वृश्चिक ब्राह्मण स्वीर्णम मूल विष विल
9. धनु क्षत्रिय पीला जीव अस्तवल
10. मकर वैश्य पीलापन धातु सरिता
11. कुंभ शूद्र चितकबरा मूल जल पात्र का स्थान
12. मीन ब्राह्मण श्वेत जीव समुद्र, नदी

  data-matched-content-rows-num="2" data-matched-content-columns-num="2" data-matched-content-ui-type="image_stacked"

 

नोट : अपने जीवन से सम्बंधित जटिल एवं अनसुलझी समस्याओं का सटीक समाधान अथवा परामर्श ज्योतिषशास्त्र के  हॉरोस्कोप फॉर्म के माध्यम से अपनी समस्या भेजकर अब आप घर बैठे ही ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं | अधिक जानकारी आप ज्योतिषशास्त्र के  FAQ's पेज से प्राप्त कर सकते हैं |

 

© The content in this article consists copyright, please don't try to copy & paste it.

सम्बंधित शास्त्र
हिट स्पॉट
राइजिंग स्पॉट
हॉट स्पॉट